फोड़े फुंसी का घरेलू उपचार



बारिश के मौसम में फोड़े फुंसी होना आम बात है। ये बैक्टीरियल इंफेक्शन, नमी और गंदगी के कारण होता है। ऐसे में कुछ घरेलू नुस्खों की मदद से आप इस परेशानी से निजात पा सकते हैं।

टी ट्री ऑयल


टी ट्री ऑयल एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर है जो कि बैक्टीरियल इंफेक्शन के कारण होने वाले फोड़े-फुंसी को कम करता है। इसे नारियल तेल में मिलाएं दिन में दो या तीन बार लगाएं।

हल्दी पाउडर


हल्दी का एंटीबैक्टीरियल गुण फोड़े-फुंसी को कम करने में मदद करता है। इसके लिए हल्दी और अदरक को पेस्ट बना कर रख लें और इसे फोड़े पर दो से तीन बार लगाएं।

नीम


नीम में एंटीसेप्टिक, एंटीबैक्टीरियल और एंटीमाइक्रोबियल गुण हैं जो फोड़े सहित स्किन इंफेक्शन का इलाज करने में मदद कर सकते हैं। तो, नीम की पत्तियों को पीसें और इसे फोड़े-फुंसी पर लगाएं।

सेंधा नमक


सेंधा नमक फोड़े फुंसी से होने वाले दर्द को कम करता है। सेंधा नमक में गर्म पानी मिलाकर प्रभावित त्वचा को करीब 20 से 30 मिनट लगाएं। ये फोड़े फुंसी को कम करने में मदद करेगा।

एलोवेरा


एलोवेरा गूदे को काटकर इसका पेस्ट बना लें। इसे दो से तीन बार फोड़े-फुंसी पर लगाएं। ये खुजली को कम करेगा और फोड़े-फुंसी को ठीक करने में मदद करेगा।

प्याज लगाएं


कच्चे प्याज को मोटे स्लाइस में काटा कर फोड़े-फुंसी पर रोजाना लगाएं तो, इससे फोड़े-फुंसी कम होने लगते हैं। इसका एंटीबैक्टीरियल फोड़े फुंसी को कम करने में मदद करेगा।


नियमित रूप से त्वचा को हल्के साबुन या एंटीबैक्टीरियल चीजों से साफ करने से फोड़े-फुंसी से बचाव हो सकता है। सेहत से जुड़ी ऐसी तमाम जानकारियों के लिए पढ़ते रहें onlymyhealth .com